Two Line Shayari Best Collection 1

Two Line Shayari: If you are looking for the best Hindi two line shayari then you are in right place. We are sharing a huge collection of mind-blowing shayaris with both Hindi and English fonts of all categories like love, broken heart, friendship etc.hope you all like these shayaris.you can share this to your friends and use as a status.

two-line-shayari

Two Line Shayari

तेरे शहर के कारीगर बड़े अजीब हैं ए दिल
काँच की मरम्मत करते हैं पत्थर के औज़ारों से

Tere shahar ke karigar bade ajeeb hain e dil
Kaanch ki marammat karte hain patthar ke auzaron se


मशहूर बहुत है मेरे अल्फाज़ की तासीर
इक शख़्स मगर मुझ से मनाया नहीं जाता
Mashhoor bahut hai mere alphaz ki taseer
Ik shakhs magar mujh se manaya nahin jata


मिटटी के बने हैं हम साहिब, महक उठेंगे
आप एक बार बेइन्तिहा बरस के तो देखो
Mitti ke bane hain hum sahib,mahak uthenge
Aap ek baar beintiha baras ke toh dekho

मंज़र भी बे-नूर थे और फ़िज़ाएं भी बेरंग थी
बस तुम याद आये और मौसम सुहाना हो गया
Manzar bhi be-noor the aur fizayen bhi berang thi
Bas tum yaad aaye aur mousam suhana ho gaya

आज फिर दिल में ये खलिश सी क्यूँ है
एक अरसा हो गया है तुम्हे अपना कहे हुए
Aaj fir dil mein ye khalish si kyun hai
Ek arsa ho gaya hai tumhe apna kahe huye


मेरी मोहब्बत की मज़ार तो आज भी वहीँ है
बस तेरी सज़दे की जगह बदल गयी है
Meri mohabbat ki mazar toh aaj bhi wahin hai
Bas teri sazde ki jagah badal gayi hai
twoline shayari
Two Line Shayari
फ़ज़र की अज़ान से होती है आमद उनकी
वो याद हो गए हैं मुझे आयत की तरह
Fazar ki azaan se hoti hai aamad unki
Wo yaad ho gaye hain mujhe aayat ki tarah


कितने नायाब होते हैं रिश्ते ये मोहब्बत के
कोई याद ना भी करें चाहत फिर भी बरक़रार रहती है

Kitne nayaab hote hain rishte ye mohabbat ke
Koi yaad na bhi kare chahat fir bhi barkarar rahti hai


धड़कनो को भी रास्ता दे दीजिये जनाब
आप तो सारे दिल पर कब्ज़ा किये बैठे हैं

Dhadkano ko bhi rasta de dijiye janab
Aap to saare dil par kabza kiye baithe hain


कभी टूटा नहीं मेरे दिल से तेरी यादों का रिश्ता
गुफ्तगू जिस से भी हो खयाल तेरा ही रहता है

Kabhi toota nahin mere dil se teri yaadon ka rishta
Guftgoo jis se bhi ho khayal tera hi rahta hai


वो उमर भर कहते रहे तुम्हारे सीने में दिल ही नहीं
एक दिल का दौरा क्या पड़ा ये दाग भी धुल गया

Wo umar bhar kahte rahe tumhare seene mein dil hi nahin
Ek dil ka doura kya pada ye daag bhi dhul gaya


कैसे कह दें कि इश्क़ में कुछ नहीं मिला
सबक भी कोई छोटी चीज़ तो नहीं है साहेब

Kaise kah den ki ishq mein kuchh nahin mila
Sabak bhi koi chhoti cheez to nahin hai saheb


Two Line Shayari

ऐसा कोई गुनाह करना है
जिसकी सजा सिर्फ तुम हो

Aisa koi gunah karna hai
Jiski saza sirf tum ho


लोग बेवजह ढूँढ़ते हैं ख़ुदकुशी के तरीके हज़ार
इश्क़ कर के क्यों नहीं देख लेते एक बार

Log bewajah dhoondte hain khudkushi ke tarike hazar
Ishq kar ke kyon nahi dekh lete ek baar


मुझे भी सिखा दो ये भूल जाने का हुनर
थक गया हूँ हर लम्हा तुम्हे याद करते करते

Mujhe bhi sikha do ye bhool jane ka hunar
Thank gaya hun har lamha tumhe yaad karte karte


लम्हों में क़ैद कर दे जो सदियों की चाहतें
हरसत ये कि ऐसा कोई अपना भी तलबगार हो

Lamhon me qaid kar de jo sadiyon ki chahten
Hasrat ye ki aisa koi apna bhi talabgar ho

Leave a Reply